दिल्ली शराब नीति और धन शोधन घोटाले: BRS नेता कविता को राऊज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया

दिल्ली शराब नीति और धन शोधन घोटाले मामले के जांच से एजेंसियां जोरशोर से एक्शन ले रही हैं। शुक्रवार को सीबीआई ने BRS नेता के कविता को राऊज एवेन्यू कोर्ट में पेश किया था। सीबीआई ने BRS नेता कविता को कोर्ट से पांच दिन की कस्टडी मांगी थी। कविता को प्रोडक्शन वारंट पर तिहाड़ जेल से लाया गया था। इसके साथ ही जांच एजेंसी ने ट्रायल कोर्ट को इस पूरे घोटाले में के कविता की भूमिका के बारे में भी क्रमवार बताया है। सीबीआई ने इस शराब नीति और धन शोधन घोटाले की अब तक की जांच की थ्योरी में बताया किरदार और किस आरोपी ने क्या भूमिका निभाई है, उसके बारे में भी खुलासा किया है.

कविता की कस्टडी के लिए CBI ने कोर्ट में दलील दी थी कि आम आदमी पार्टी को 100 करोड़ की रिश्वत अरेंज करने में कविता का बड़ा किरदार था। कविता इस मामले में मुख्य साजिशकर्ताओं में एक हैं। एक बिजनेसमैन ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से मुलाकात की थी। केजरीवाल ने उन्हें आबकारी नीति के जरिए सपोर्ट करने का वादा दिया था काम पूरा हो जाएगा । CBI ने ये कहा था कि कविता ने हैदराबाद में उसी बिजनेसमैन से मुलाकात की थी। यानी वो बिजनेसमैन विजय नायर के कविता के संपर्क में भी थे। बिजनेसमैन ने ही कविता से कहा था 100 करोड़ रुपये की अग्रिम धनराशि की व्यवस्था करे। कविता ने 100 करोड़ रुपये का इंतजाम करने में बहुत बड़ी भूमिका निभाई है। कविता तेलंगाना के पूर्व सीएम के चंद्रशेखर राव की बेटी हैं। CBI ने अपनी दलीलों के समर्थन में सरकारी गवाह दिनेश अरोड़ा के बयान का प्रमाण दिया।
विजय नायर आप नेता के कहने पर साउथ ग्रुप बीआरएस नेता के कवित,अरबिंदो फार्मा के प्रमोटर शरत रेड्ड, वाईएसआरसीपी के लोकसभा सांसद मगुंटा श्रीनिवासुलु रेड्डी, उनके बेटे राघव मगुंटा से 100 करोड़ रुपये की रिश्वत मिली थी. साउथ ग्रुप का प्रतिनिधित्व अभिषेक बोइनपल्ली , अरुण पिल्लई और बुचीबाबू ने किया था. इन तीनों को ही शराब घोटाले में गिरफ्तार किया गया है।

कविता ने शरत रेड्डी को बातचीत के लिए आगे किया है

दिनेश अरोड़ा इस केस में पहले आरोपी रहे है । दिनेश अरोड़ा को ही सरकारी गवाह बना लिया गया है. CBI का कहना है कि दिनेश अरोड़ा ने अपने बयान में सत्यापन की है कि अभिषेक बोइनपल्ली ने बताया था कि विजय नायर को 100 करोड़ रुपये दिए गए थे. CBI ने कहा कि बुचीबाबू से बरामद व्हाट्सएप चैट से पता चला है कि वो इंडोस्पिरिट्स में कविता के साथ हिस्सेदार है. सीबीआई ने कहा, के कविता ने दिल्ली में आबकारी नीति मामले में काम करने के लिए शरतचंद्र रेड्डी को आगे किया गया था. तत्कालीन आबकारी मंत्री मनीष सिसोदिया के दबाव के कारण ब्लैक लिस्ट किए जाने के बावजूद इंडोस्पिरिट्स दिए गए थे।

साउथ सिंडिकेट में कविता की भूमिका
आबकारी मंत्री मनीष सिसोदिया के दबाव के होने के कारण ब्लैक लिस्ट किए जाने के बावजूद इंडोस्पिरिट्स को लाइसेंस दिया गया था CBI ने अपनी तर्क में व्हाट्सएप चैट और कुछ लोगों के बयान का हवाला दिया और कहा है की कविता ने अपने राजनीतिक प्रभाव का इस्तेमाल करके राघव मुंगटा की उसकी कंपनी को NOC दिलाने में मदद की थी। CBI का कहना है कि सीआरपीसी की धारा 161 और 164 के तहत हवाला ऑपरेटरों क रुपये के भुगतान की पुष्टि हुई थी। गोवा चुनाव के लिए हवाला के जरिए पैसा इकट्ठा किया गया था। हमने व्हाट्सएप चैट भी फाइल की ह। हवाला की रकम AAP के गोवा से जुड़े एक व्यक्ति को मिली थी। CBI ने कहा, साउथ में सिंडिकेट चलाने के लिए के. कविता का आबकारी नीति मामले में मुख्य भूमिका है

Load More Related Articles
Load More By Mili Patwey
Load More In National
Comments are closed.

Check Also

यमुना एक्सप्रेसवे पर एक्सीडेंट में चकनाचूर क्रेटा कार में फांसी मां-बेटी, एयरबैग से बची जान

यमुना एक्सप्रेसवे पर एक्सीडेंट : –घटना का एक वीडियो सामने आया है जो की कल की है जिसम…