महाशिवरात्रि 2024: जानें पूजा का समय तथा व्रत के नियम

Shiv ratri

इस वर्ष महाशिवरात्रि 08 मार्च 2024 को है। चतुर्दशी का शुरुआत 8 मार्च दिन शुक्रवार शाम 09:57 से शुरू होगा और दूसरे दिन 9 मार्च दिन शनिवार को 09:17 मिनट पर समाप्त हो जाएगा । कहा जाता है कि महाशिवरात्रि दिन देवों के देव महादेव और मां पार्वती का विवाह हुआ था। इसलिए इस दिन को महाशिवरात्रि के रूप में मनाया जाता है। महाशिवरात्रि हिंदू धर्म का महत्वपूर्ण पर्व है। शिवरात्रि के दिन भगवान शिव की पूजा-अर्चना की जाती है और व्रत भी रखा जाता है । हिन्दू पंचांग के मुताबिक महाशिवरात्रि फाल्गुन माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी तिथि को मनाया करते है. इस वर्ष महाशिवरात्रि का पर्व 08 मार्च 2024 को मनाया जायेगा। धार्मिक मान्यता और पौराणिक कथाओं के मुताबिक महाशिवरात्रि के दिन मां पार्वती और शिवजी का विवाह हुआ था। इसलिए इस पर्व को शिव-पार्वती के विवाह के उत्सव के तौर पर भी मानते है। महाशिवरात्रि के दिन चारों प्रहर शिवजी की पूजा किया जाता वैसे शिवजी की पूजा के लिए प्रदोष काल को सबसे अच्छा माना जाता है। महाशिवरात्रि के दिन सच्ची श्रद्धा और भक्ति के साथ व्रत करने वालों से महादेव प्रसन्न होते हैं और भगतो की समस्त मनोकामना को पूरी करते हैं. महाशिवरात्रि के पावन दिन को शुभ और मांगलिक कार्य करने के लिए उत्तम माना जाता है।

पूजा सामग्री :- पान का पत्ता, धूप, फूल, गंध, गाय का घी, चंदन, बेलपत्र, कपूर, गंगाजल, सुपारी, नारियल, श्रृंगी , मिठाई, फल, शहद, दही, दूध, मेवा, गुलाबजल, पंचामृत , चंदन, भांग ,धतूरा अदि।

क्या क्या  चीजें जो आप भगवान शिव को अर्पित कर सकते हैं :- भगवान शिव को बेल पत्र, धतूरे का फूल, दही, घी, चंदन चढ़ा सकते हैं। इसके अतिरिक्त, इस दिन दूध से बनी मिठाइयाँ और उससे बने उत्पाद जैसे बर्फी, पेड़ा और पायसम/खीर भी भगवान को अर्पित किया जा सकता है।इस पूजा के दौरान भक्तों को कभी भी कुमकुम के तिलक का प्रयोग नहीं करना चाहिए और चंदन के लेप को मान्यता देनी चाहिए।

महाशिवरात्रि का व्रत नियम :- भगवान शिव के कई भक्त महाशिवरात्रि का व्रत रखते हैं। जबकि कुछ भक्त भोजन और पानी के बिना उपवास करना चुनते हैं, अन्य लोग अपने आहार में आलू, मखाना, केला और कद्दू जैसे भोजन शामिल करते हैं।
जो लोग महाशिवरात्रि का व्रत रखना चाहते हैं उन्हें गेहूं, चावल, नमक, कुछ सब्जियां, दालें और ऐसे अन्य खाद्य पदार्थों से बचना चाहिए। इसके अलावा मांसाहारी भोजन के साथ-साथ प्याज और लहसुन से भी सख्ती से परहेज करना चाहिए।

महाशिवरात्रि पूजा अनुष्ठान :- महाशिवरात्रि के दौरान व्रत रखना बहुत शुभ माना जाता है। भगवान शिव के भक्त मंदिर जाते हैं और भगवान शिव को ‘पंचामृत’ चढ़ाते हैं। पंचामृत दूध, दही, शहद, चीनी और घी का मिश्रण है।

Load More Related Articles
Load More By Mili Patwey
Load More In Religion
Comments are closed.

Check Also

बिग बॉस ओटीटी 3 वाइल्डकार्ड एंट्री अदनान शेख की और बने तीन बहार वाला

बिग बॉस ओटीटी 3 के वीकेंड का वार एपिसोड में काफी कुछ खास हुआ था । कुछ टास्क हुए थे कुछ मेह…